10.9.14

अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ा भामाशाह कैम्प


कोटपूतली। तहसील की गोरधनपुरा ग्राम पंचायत के लिए राजीव गांधी सेवा केन्द्र, गोरधनपुरा पंचायत पर लगा भामाशाह योजना शिविर घोर अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गया। शिविर में भारी संख्या में महिलाऐं परिवार सहित भामाशाह एवं आधार कार्ड बनवाने पहंुची, लेकिन उपस्थित भीड़ के समक्ष सरकारी लवाजमा बौना नजर आया। नतीजतन धीमी कार्य गति से नाराज ग्रामीणों का रह-रहकर आक्रोश फूट पड़ा। कार्य में शीथिलता से नाराज ग्रामीणों ने एकबारगी तो राजीव गांधी सेवा केन्द्र का मुख्य चैनल गेट को हिला-हिलाकर तोड़ने की भी कौशिश की, जिस पर मौके पर मौजूद तहसीलदार ने बुजुर्ग ग्रामीणों की सहायता से आक्रोशित युवाओं को शांत कराते हुए स्थिति पर काबू पाया, और व्यवस्था बनाने के लिहाज से स्वयं ही चैनल गेट के दरवाजे पर कुर्सी डालकर बैठ गए।
    शिविर में नाराजगी इस कदर थी कि भामाशाह कार्ड बनवाने आयी बबिता देवी, मणि देवी, जयप्रकाश यादव इत्यादि ने बताया कि शिविर भरे जा रहे फार्मों में भारी त्रृटियां की जा रही हैं। किसी का नाम गलत तो किसी बच्ची की आय ही 20 हजार सालाना दिखा रहे हैं। कृषक को मजदूर और मजदूर को कृषक दिखाने जैसी त्रृटियां तो बहुत ज्यादा हैं। वहीं आसपुरा ग्राम के जलदीप, अनिल यादव व रामस्वरूप ने बताया कि शिविर में ‘मुंह देखकर तिलक किया जा रहा है’, गांव के अब तक मात्र 7 फार्म ही जमा किए गए हैं।
प्रधानमंत्री जनधन योजना में उमड़े लोग
वहीं दूसरी ओर राजीव गांधी सेवा केन्द्र परिसर में ही लगे प्रधानमंत्री जनधन योजना शिविर के तहत 124
बैंक खाते खोल गए। इस शिविर के प्रति लोगों का अच्छा रूझान देखा गया था ग्रामीणों में संतुष्टि भी देखी गई। शिविर में एक दिन पहले 272 ग्रामीणों के बैंक खाते खोले गए थे। शिविर में बैंक मित्र धर्मपाल, रणजीत, त्रिलोक चंद, सहायिका सरोज देवी एवं यूको बैंक कोटपूतली शाखा के सहायक प्रबंधक अनिल कुमार ने अपनी सेवाएं दी। सहायक प्रबंधक अनिल कुमार ने बताया कि जनधन योजना के तहत लोगों में अच्छा आकृषण देखने को मिल रहा है तथा ग्रामीणों के संतोष एवं सहयोग के साथ ही हमने दो दिन में 396 खाते खोल दिए हैं।

8.9.14


राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम की ओर से एक दिवसीय निःशुल्क रोजगार परामर्श सेमीनार आयोजित

कोटपूतली। राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम की ओर से कस्बे के अमरपुरा रोड़ स्थित सजना पब्लिक सी सैकण्डरी स्कूल में एक दिवसीय निःशुल्क रोजगार परामर्श सेमीनार का आयोजन किया गया। सेमीनार में निगम के जिला कार्यकर्ता विशाल, योगेश एवं हनुमान सहाय शर्मा ने उपस्थित सैकड़ों युवाओं को टेलरिंग के क्षेत्र में रोजगार एवं स्वरोजगार प्राप्त करने की जानकारी देते हुए बताया कि राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम प्रदेश के गरीब, ग्रामीण, अनुसूचित जाति-जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग व बीपीएल सहित समाज के विभिन्न वर्गाें के 16-35 साल के बेरोजगार युवाओं को रोजगार एवं स्वरोजगार उपलब्ध कराने में मदद करता है। इसके तहत न्यूनतम 8 वीं पास योग्यता धारक युवा भी आवेदन कर सकता है।
    निगम के जिला कार्यकर्ता हनुमान सहाय शर्मा एवं योगेश ने जानकारी दी कि निगम का उद्देश्य राज्य के बेरोजगार युवक-युवतियों को विभिन्न कौशल प्रशिक्षण जैसे सुरक्षा गार्ड, भवन निर्माण, कार्यालय प्रबंधन, हाॅस्पिटेलिटी, आई.टी., अकाउण्ट्स इत्यादि क्षेत्र में प्रशिक्षण दिलाना एवं उन्हें राज्य एवं राज्य के बाहर रोजगार हेतु तैयार करना है। शर्मा ने बताया कि टेलरिंग के क्षेत्र में प्रशिक्षण के पश्चात प्रशिक्षणार्थी को रेमण्ड कम्पनी में नौकरी दी जाती है। रेमण्ड जो ब्रांडेड वस्त्र फैशन रिटेलर हैं राजस्थान सरकार के उद्योग विभाग एवं आरएसएलडीसी के सहयोग से बेरोजगार युवाओं को रोजगार सुनिश्चितता की व्यवस्था करता है।
    सेमीनार में करीब 150 युवाओं ने हिस्सा लिया। सेमीनार का संचालन सजना पब्लिक सी सै स्कूल के संचालक धर्मवीर कुमावत ने किया। सेमीनार के दौरान उपस्थित समाजसेवी पूर्णमल का साफा पहनाकर स्वागत किया गया। सेमीनार के अंत में सेमीनार व्यवस्थापक विकास वर्मा ने निगम के जिला कार्यकर्ताओं को धन्यवाद ज्ञापित किया।